Android Root Kya Hota He – Pros & Cons Of Root

HELLO FRIENDS,
क्या आपको पता है एंड्राइड रूट क्या है रूट करने के फायदे और नुकसान क्या है आप में से बहुतों को मन में यह सवाल आते होंगे तो आइए आज के ये सवाल का आंसर आपको बताया जाए एंड्राइड रूट क्या होता है इस पोस्ट पर हम इसके बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे

Android Root Kya Hota He - Pros & Cons Of Root

           aap sabhi ko pata hoga Ki Android 1 mobile operating system hai Bus itna hi nahin mobile mein use kiye jaane wale sare operating system mein se yah top me hai kyunki aapko har dusre ke hathon mein Android smartphone dekhne Ko mil jaati hai 

             एक ऑपरेटिंग सिस्टम का काम होता है यूजर aur डिवाइस के हार्डवेयर के बीच लिंक बनाए रखना जो  यूजर  कोई कमांड देता है तो ऑपरेटिंग सिस्टम के जरिए ही वह एंड्राइड  तक पहुंचता है और इस प्रोसेस ऑफ यूजर को एक आउटपुट देता है आप मोबाइल  और  कंप्यूटर को हर डिवाइस में इस प्रकार काम करता है तो चलिए आज जानते थे कि एंड्राइड रूट क्या होता है

 जब कोई कंपनी एक android system  बनाता है तो उसके साथ कुछ लिमिटेशन भी ऐड कर देता है ताकि इसका कोई गलत इस्तेमाल ना कर सके. android-1 लिनक्स बेस्ड ऑपरेटिंग सिस्टम है अगर notice किया तो आपको जरूर पता होगा कि एक ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्टम है और ज्यादातर लोग इसे secruty और हैकिंग के लिए इस्तेमाल किया करते हैं  

Aap apne Android smartphone mein bhi aise bahut Sare kam kar sakte hain Agar vah root Kiya gaya ho to root ka matlab hota hai जड yah aapko Android ke Jad Tak pahunchane Mein madad karta hai bina root Android phone mein jawab yah sab nahin kar sakte Kyunki aap Uske system files ko accept karne ka permission Nahin Hota Hai
जब आप कंप्यूटर में कोई सॉफ्टवेयर के ऊपर राइट क्लिक करते हो तो आपको रन एस एडमिनिस्ट्रेटर का ऑप्शन आता है ऐसे ही जब आप अपने मोबाइल को रूट कर दे देते तो आपको अपनी फोन को एक administrator power से यूज कर पाएंग Android phone को root केसे करें ? अपने एंड्रॉयड फोन को हम दो तरीकों से रूठ कर सकते हैं

पहले कंप्यूटर की मदद से और दूसरा बिना कंप्यूटर के मदद से इनमें से बिना कंप्यूटर के मदद से एंड्रॉयड फोन को रूट करना बहुत ही आसान काम है उसे कोई भी कर सकता है इसके लिए आप किंग रूट ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं सबसे पहले आपको किंग रूट के ऑफिशल वेबसाइट में जाकर किंग रूट के लेटेस्ट वर्जन को डाउनलोड करना होगा यदि आपने पहले कभी इंटरनेट से एप डाउनलोड नहीं किया है तब आपको इसके लिए अपने फोन में कुछ सेटिंग चेंज करना होगा ताकि वह पास आने से इंस्टॉल हो सके उसके लिए आपको फोन के सेटिंग में जाना होगा फिर सिक्योरिटी में क्लिक करना होगा इसके बाद अननोन सोर्सेस के ऑप्शन में जाकर उसे allow करना होगा इसके बाद आप आसानी से कोई भी ऐप इंस्टॉल कर सकते हैं

Android Root Kya Hota He - Pros & Cons Of Root
 
किंग रूट को इंस्टॉल कर लें इसे इंस्टॉल करने के बाद आपको रूट अक्सर अनअवेलेबल का स्टेट दिखाएगा और उसके नीचे आपको गेट नो का बटन भी दिखेगा जिससे आपको क्लिक करना है ise क्लिक करने पर रूटिंग चालू हो जाएगा वह 97% में रुक जाएगा

उसके बाद आपको कंटिन्यू में क्लिक करना है इससे एक का प्यूरीफायर सिस्टम डाउनलोड होने लगेगा डाउनलोड कंपलीट हो जाने पर आपका फोन पूरी तरह से रूट हो जाएगा इसके बाद स्टेटस में ऑप्टिमल स्टेट दिखा नजर आएगा Android phone root हैं की नहीं check केसे करें यह सवाल आपके मन में जरूर आया होगा कि मैंने अपने फोन को रूट तो कर लिया लेकिन हमें पता कैसे चले कि अपना एंड्रॉयड फोन रूट है कि नहीं चेक कैसे करें इसका जवाब बहुत ही आसानी से दिया जा सकता है

क्योंकि गूगल के प्ले स्टोर में एक ऐप है जिसका नाम है रूट चेकर जिसके इस्तेमाल से आप अपने फोन के रूट स्टेटस के विषय में जान सकते हैं इसमें अगर आपका फोन ढूंढ होगा तभी आपको ग्रीन कलर स्टेटस दिखाएगा वह लिखेगा की रूट सक्सेस इज प्रॉपर्ली इंस्टॉल्ड वहीं अगर आपका फोन उठ नहीं हुआ हो तब यहां पर आपका रेड कलर स्टेटस दिखाएगा वह लिखा गया कि रूट सेशन नॉट प्रॉपर्ली इंस्टॉल्ड इससे आपके अपने एंड्रॉयड फोन का रूट स्टेटस पता चलेगा

Android Root Kya Hota He - Pros & Cons Of Root
Android Root Kya Hota He

                                 Root करने के फायदे – Benefits of Android Rooting 

रूट करने के फायदे बहुत होते हैं इसलिए हर कोई जानना चाहते हैं रूट एंड जॉइनिंग के बारे में मैंने नीचे कुछ महत्वपूर्ण पॉइंट्स दिए हैं जिससे आपको ही समझने में आसानी होगी के फोन रूट करने से क्या होता है

 1 अपने phone की performance और Battery Life :

अगर आपका मोबाइल rooted तो आप एप्लीकेशंस के मदद से इसको और लोग करके इसकी परफॉर्मेंस को बढ़ा सकते हैं साथ ही साथ अंडर क्लिक करके इसकी बैटरी लाइफ को इनक्रीस भी कर सकते हैं और आपको यह दोनों एक साथ नहीं कर सकते आप को इनमें से एक पुरुष एक को चुनना होगा आप चाहे तो दोनों के बीच बैलेंस करके स्पीड और बेटी दोनों को बढ़ा सकते हैं

 2 आप Incompatible Apps Install कर सकते हैं :

कुछ पुराने एप्स नए एंड्रॉयड वर्जन में काम नहीं करते पर रूट की मदद से आप उन्हें भी चला सकते हैं कुछ एक पूरी तरह से नहीं चल पाए पर कुछ हद तक चल जाता है

 3 System Apps Uninstall कर सकते हैं :

जो एप्स आपके फोन के साथ आते हैं उन्हें सिस्टम एप्स कहा जाता है यह एप्स को आप अनइनस्टॉल नहीं कर सकते पर एक रूटेड मोबाइल में ही आप इन को uninstall कर सकते हैं

 4 Root Only Apps run कर सकते हैं: 

कुछ ऐसे भी एप्स होते हैं जो बिना root मोबाइल मैं नहीं चलते हैं जब आप अपने फोन को रूट करते हो तब भी वह चल सकते हैं root करने के बाद ऐसे एप्लीकेशन को आप आराम से चला सकते हैं 

 5 Customization कर सकते है :

Custom ROM की मदद से आप अपने मोबाइल को एक नया लुक दे सकते हैं इसके साथ-साथ उसके आइकन नोटिफिकेशन बार कलर कोट और ऐसे बहुत सारे एलिमेंट्स को चेंज कर पाएंगे जिससे आपका फोन अट्रैक्टिव लगेगा  

6 : aap Full Device Backup ले सकते हैं : 

 ek application hai jiska Naam hai titanium backup इस एप्लीकेशन की मदद से आप अपना सारा डिलीट हुआ डाटा वापस बैकअप कर सकते हैं डाटा कभी भी डिलीट किया हुआ वह वापस एक्सेस कर सकते हैं 

                         

                            Root Karne ke Nuksaan – Roots Demerits 

 सिक्के के दो पहलू होते हैं इसी तरह हर काम के दो नतीजे निकलते हैं एंड्राइड रूट फायदे के साथ-साथ कुछ नुकसान भी देता है चली बताते हैं कि एंड्राइड root के क्या क्या नुकसान है 

 

 1 आपका फोन खराब हो सकता है: 

एंड्रॉयड रूप से आपका फोन पूरी तरीके से खराब हो सकता है अगर आपने रूटिंग करते समय सही ध्यान नहीं दिया और टेक्निक में कुछ खराबी आ गई तो आपका फोन पूरी तरीके से खराब हो सकता है 

 

2 Rooting se Warranty नष्ट हो जाती है: 

जैसा कि आपको पता है कि हर फोन एक वारंटी के साथ आता है अगर आप उस फोन को रूट कर देते तो उसकी वारंटी चली जाती है लेकिन अगर आप इसको फिर से अनुरोध कर देते तो वह वारंटी फिर से लागू हो जाती है क्योंकि सर्विस सेंटर वाले कभी भी पता नहीं कर पाता कि फोन पहले रूट किया गया था या नहीं . 

 

 3 ज्यादा Update Issue होता है : 

एक बार आपने फोन को रूट करने के बाद आप उसे स्मार्टफोन के एंड्रॉयड version को अपडेट नहीं कर सकते हो स्कोर अपडेट करने के लिए पहले आपके फोन को unroot करना पड़ेगा.कभी-कभी अनुरोध करने के बाद भी वापस पहले वाली सेटिंग नहीं आती और अपडेट नहीं मिलता है इसके लिए फिर से आपको फोन को फॉर्मेट करना होता है उसके बाद अपडेट करना होता है 

One thought on “Android Root Kya Hota He – Pros & Cons Of Root

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *